July 14, 2024

क्या आपको पता है छठ महापर्व के बाद पटना में बड़ी सुरंग बनने वाली है? जानें इसका रूट

क्या आपको पता है कि बिहार की राजधानी में एक बड़ी सुरंग बनने जा रही है. आप सोच रहे होंगे मेट्रो सुरंग की बात नहीं की जा रही है. जी नहीं, यह एक आंतरिक सुरंग पटना शहर के बीचोबीच बन रही है. दरअसल स्मार्ट सिटी परियोजना के तह बिहार सरकार अब जल्द ही पटनावासियों को एक बड़ा उपहार देने जा रही है. इसके तहत शीघ्र ही पटना में अंडर ग्राउंड रास्ता बनाने की तैयारी हो रही है. बुद्धा स्मृति मल्टीपार्किंग से लेकर पटना जंक्शन तक अंडर ग्राउंड रास्ता बनाया जाएगा. इस सुरंग के बन जाने से आम लोगों को बड़ी सहूलियत मिलने वाली है।

दरअसल पटना स्टेशन एरिया में बहुत भीड़ रहती है. शायद ही कोई ऐसा दिन होता होगा जब इस क्षेत्र में जाम न लगता हो. ऐसे में यात्रियों को ट्रेन पकड़ने की जल्दी के बीच जाम बड़ी समस्या बनकर सामने आ जाती है. जाम में फंसे होने के कारण ट्रेन छूट जाने का डर और आनन-फानन में जल्दी पहुंचने की कोशिश में खतरों से खेलना, यहां के यात्रियों की दिनचर्या बन गई है. पर इस सुरंग के बन जाने से जाम की समस्या से निजात मिलनी तय मानी जा रही है।

सूत्रों से मिली जानकारी के अनुसार बिहार राज्य पुल निगम ने भी अपनी सहमति दे दी है. इसको लेकर टेंडर की प्रक्रिया भी शुरू कर दी गई है, सब कुछ सही रहा तो छठ पूजा के बाद निगम बोर्ड की होने वाली महत्वपूर्ण बैठक में टेंडर जारी कर अंडर ग्राउंड रास्ते के लिए कोई बड़ा फैसला ले सकता है. इस स्मार्ट सिटी योजना के तहत बुद्धा स्मृति मल्टी पर्किंग से पटना जंक्शन तक बनने वाले अंडर ग्राउंड रास्ते के लिए मल्टी पार्किंग के पास से 8 मीटर भीतर तक खुदाई की जाएगी।

बताया जा रहा है कि इस सुरंग के साइड में ट्रैवलर लगाये जाएंगे जिससे पैदल चलने वाले लोग खड़े होकर आसानी से आगे निकल सकें. जाहिर है सरकार की यह योजना पैदल चलने वालों के लिए वरदान साबित होने वाला है. इससे बुद्धा स्मृति पार्क से आने वाले ऑटो डायरेक्ट पटना जंक्शन फ्लाईओवर पर पहुंचेंगे. रोजाना इस रूट से आने जाने वाले पैदल यात्रियों को बेहद फायदा होने वाला है. अंडर ग्राउंड रास्ता बनने से रोजाना होने वाली जाम की समस्या से लोगों को मुक्ति मिलेगी।

बता दें कि भारत के बड़े शहरों में इस तरह की सुविधा है. आधिकारिक सूत्रों की माने तो इस अंडर ग्राउंड रास्ते के लिए बिहार सरकार करीब 65 करोड़ रूपए खर्च करने वाली है. इपीसी मोड में बननेवाला अंडरग्राउंड रास्ता 410 मीटर लंबा होगा. जिससे बिहार अपने नाम अंडर ग्राउंड रास्ता बनाने का कीर्तिमान भी स्थापित कर लेगा. साथ ही आम नागरिकों को बेहद ही सहूलियत मिलेगी. यह इसलिए कि कई बार समय पर घर से निकलने के बावजूद कई लोग जाम का शिकार हो जाते हैं और यात्रियों की ट्रेन कई बार छूट जाती है।

पुल निर्माण निगम से मिली आधिकारिक सूत्रों से मिली जानकारी के अनुसार बुद्ध स्मृति मल्टी पार्किंग से पटना जंक्शन तक अंडरग्राउंड रास्ता स्मार्ट सिटी परियोजना के तहत बनेगा. इसके निर्माण के लिए नगर विकास व आवास विभाग से सहमति मिली है. इसके साथ ही पटना जंक्शन फ्लाइओवर से बुद्ध स्मृति पार्क के ऑटो स्टैंड को जोड़ने के लिए एलिवेटेड रोड भी बनना है. ऑटो स्टैंड के तीसरे व चौथी मंजिल पर वाहनों की पार्किंग के लिए लोग सीधे पहुंच कर इसका इस्तेमाल करेंगे. साथ ही रेस्टोरेंट के बनने से लोगों को खान–पान की सुविधा मिलेगी।

Spread the love