February 20, 2024

तेजस्‍वी यादव के इलाके में पति-पत्‍नी दोनों ने जीता चुनाव, वैशाली में आया चौंकाने वाला नतीजा

लोकतंत्र के आंगन में मतदाताओं का अनूठा फैसला पत्नी करेंगी तरक्की और पति करेंगे न्याय बिदुपुर प्रखंड के एक नंबर पंचायत में पत्नी मुखिया और पति चुने गए सरपंच पत्नी पहले भी रह चुकी है मुखिया पति पहली बार चुने गए हैं सरपंच

देश और दुनिया को लोकतंत्र का पाठ पढ़ाने वाली वैशाली की पावन धरती ने गांव की सरकार बनाने में भी एक से बढ़कर एक अनूठे फैसले किए हैं। वैशाली जिले के बिदुपुर प्रखंड अंतर्गत पंचायत संख्या एक से चुनाव में यहां की जनता ने अनूठा फैसला किया है। जनता–जनार्दन ने इस बार यहां पति–पत्नी पर ही भरोसा जताया है। पंचायत की मतदाताओं के फैसले के अनुसार अब पंचायत की तरक्की का जिम्मा पत्नी का होगा। जबकि, पति के जिम्मे लोगों को न्याय दिलाना होगा। वैशाली जिले में इस बार पंचायत चुनाव में पहली बार इस तरह का अंगूठा फैसला आया है। फैसले की चर्चा यहां हर जुबान पर है।

बिदुपुर प्रखंड के सैदपुर गणेश पंचायत की जनता ने दिया है फैसला

यह अनूठा फैसला वैशाली जिले के बिदुपुर प्रखंड अंतर्गत सैदपुर गणेश पंचायत की जनता का है। यहां मंगलवार की सुबह शुरू हुई मतगणना में यह फैसला जनता ने सुनाया है। बिदुपुर प्रखंड का सैदपुर गणेश एक नंबर पंचायत है। यहीं से पंचायत गणना शुरू होती है और पहले ही फैसले ने ना सिर्फ लोगों को चौंका दिया बल्कि लोगों को चर्चा करने पर मजबूर कर दिया। यहां वर्तमान मुखिया कमल कुमार को हार का सामना करना पड़ा है।

बिहार विधानसभा में प्रतिपक्ष के नेता तेजस्वी का है निर्वाचन क्षेत्र

पंचायत चुनाव में अनूठा फैसला देने वाला बिदुपुर प्रखंड का बिदुपुर प्रखंड का सैदपुर गणेश पंचायत बिहार विधानसभा में प्रतिपक्ष के नेता तेजस्वी प्रसाद यादव का निर्वाचन क्षेत्र है। लालू-राबड़ी भी इस क्षेत्र का प्रतिनिधित्‍व कर चुके हैं। यदुवंशियों के गढ़ रहे राघोपुर विधानसभा के बिदुपुर प्रखंड का सैदपुर गणेश पंचायत ने यदुवंशियों को ही चुना है। जीतने वाले पति–पत्नी और हारने वाले निवर्तमान मुखिया भी यदुवंशी ही हैं।

पंचायत के लोगों को अब नहीं जाना होगा दूसरे किसी दरवाजे पर

पत्नी को मुखिया एवं पति को सरपंच का ताज सौंपने वाले पंचायत के लोगों का इस अनूठे फैसले के पीछे सोच यह है कि उन्हें तरक्की एवं न्याय के लिए दो अलग-अलग दरवाजे पर नहीं जाना पड़ेगा। पंचायत की तरक्की एवं न्याय दोनों का फैसला अब एक ही दरवाजे से हो जाएगा।

पत्नी पहले भी रह चुकी हैं मुखिया, पति पहली बार बने हैं सरपंच

सैदपुर गणेश पंचायत में सरोज देवी पहले भी मुखिया रह चुकी हैं। पंचायत की जनता ने दूसरी बार उन पर भरोसा जताया है। वही उनके पति प्रवीण कुमार पहली बार सरपंच चुने गए हैं। अपनी जीत के बाद सरोज देवी एवं प्रवीण ने कहा है कि पंचायत की जनता ने उन दोनों पर जिस तरह भरोसा जताया है, दोनों की पूरी कोशिश होगी कि लोगों के विश्वास पर खरा उतरे। दोनों मिलकर पूरी निष्ठा के साथ पंचायत की जनता की सेवा करेंगे और तरक्की के साथ लोगों को न्याय दिलाएंगे

Spread the love