February 20, 2024

पटना में कोरोना विस्फोट, IMA के प्रोग्राम में शामिल 17 डॉक्टर पॉजिटिव, CM नीतीश भी आए थे।

साल 2021 के आखिरी दिन बिहार में कोरोना वायरस का जबरदस्त विस्फोट हुआ और कुल 281 मामले दर्ज किए गए. इसी दिन राजधानी पटना में कुल 281 में से 136 मामले सामने आए, जिसके बाद जिला प्रशासन के हाथ पांव फूल गए हैं।

जानकारी के मुताबिक, 28 दिसंबर को बिहार में इंडियन मेडिकल एसोसिएशन का सालाना कार्यक्रम हुआ था, जिसमें मुख्यमंत्री नीतीश कुमार ने भी शिरकत की थी और इसी कार्यक्रम में शामिल होने वाले नालंदा मेडिकल कॉलेज और अस्पताल के 17 डॉक्टर भी कोरोना  पॉजिटिव पाए गए हैं।

नालंदा मेडिकल कॉलेज और अस्पताल अधिकारियों ने इस बात की पुष्टि की है कि मेडिकल एसोसिएशन के कार्यक्रम में शामिल होने वाले 17 डॉक्टरों का एंटीजन टेस्ट पॉजिटिव आया है, जिसके बाद सभी डॉक्टरों का आरटी पीसीआर टेस्ट करवाया गया है जिसकी रिपोर्ट आनी बाकी है।

गौरतलब है कि इंडियन मेडिकल एसोसिएशन के इसी कार्यक्रम में मुख्यमंत्री नीतीश कुमार ने इस बात की आधिकारिक घोषणा की थी कि बिहार में कोरोना की तीसरी लहर की शुरुआत हो चुकी है. 31 दिसंबर को जहां पटना में 136 मामले दर्ज किए गए, वहीं 70 मामले गया में और 10 मुंगेर में मिले।

बता दें कि पिछले 1 सप्ताह में बिहार में कोरोना ने जबरदस्त रफ्तार पकड़ ली है. 25 दिसंबर को जहां राजधानी पटना में चार संक्रमित मामले सामने आए थे और कुल मरीजों की संख्या 55 थी. वहीं 1 जनवरी को पटना में कुल 136 नए संक्रमण के मामले सामने आए और मरीजों की संख्या बढ़कर 405 हो गई है. फिलहाल बिहार में संक्रमित मरीजों की संख्या 749 है।

Spread the love