February 20, 2024

‘शायद नया नियम आ गया है, अब सट्टेबाजी कंपनियां भी IPL टीमें खरीदने लगीं,’ ललित मोदी ने BCCI पर लगाया आरोप

ललित मोदी ने ट्वीट कर कहा, ‘मुझे लगता है कि सट्टेबाजी कंपनियां आईपीएल टीम खरीद सकती हैं। शायद कोई नया नियम आ गया है। बोली जीतने वाला एक बोलीदाता एक बड़ी सट्टेबाजी कंपनी का मालिक भी है। आगे क्या होगा।’

इंडियन प्रीमियर लीग (आईपीएल) के पूर्व कमिश्नर ललित मोदी ने हाल ही में दुबई में संपन्न हुई दो नई आईपीएल टीम की नीलामी प्रक्रिया पर सवाल उठाए हैं। उन्‍होंने सवाल उठाया कि यूके में सट्टेबाजी का धंधा चलाने वाली कंपनी को अहमदाबाद फ्रेंचाइजी क्‍यों सौंपी गई है। भारतीय क्रिकेट कंट्रोल बोर्ड (बीसीसीआई) को अहमदाबाद और लखनऊ की टीम की नीलामी से 12,000 करोड़ रुपए से ज्यादा की कमाई हुई है।

ललित मोदी ने आईपीएल में निजी इक्विटी फर्म सीवीसी कैपिटल्स पार्टनर्स के प्रवेश पर सवाल उठाए हैं, क्योंकि इसका निवेश सट्टेबाजी गतिविधियों से जुड़ी कंपनियों में है। सीवीसी ने दुनिया की सबसे बड़ी टी20 लीग की अहमदाबाद फ्रेंचाइजी को खरीदने के लिए 5625 करोड़ रुपये की बोली लगाई थी। सीवीसी स्वयं को निजी इक्विटी के क्षेत्र में दुनिया की शीर्ष कंपनी बताती है जो 125 अरब डॉलर की संपत्तियों का प्रबंधन करती है।

लखनऊ फ्रेंचाइजी को आरपीएसजी वेंचर्स ने 7090 करोड़ रुपये में खरीदा। सीवीसी की वेबसाइट के अनुसार उसका निवेश टिपिको और सिसल जैसी कंपनियों में हैं जो खेल सट्टेबाजी से जुड़े हैं। भारत में सट्टेबाजी वैध नहीं है। सीवीसी अतीत में फार्मूला वन में भी निवेश कर चुका है और अब उसकी हिस्सेदारी प्रीमियरशिप रग्बी में है।

ललित मोदी ने मंगलवार को ट्वीट कर कहा, ‘मुझे लगता है कि सट्टेबाजी कंपनियां आईपीएल टीम खरीद सकती हैं। शायद कोई नया नियम आ गया है। बोली जीतने वाला एक बोलीदाता एक बड़ी सट्टेबाजी कंपनी का मालिक भी है। आगे क्या होगा। क्या बीसीसीआई ने अपना काम नहीं किया। भ्रष्टाचार रोधी इकाइयां ऐसे मामले में क्या करेंगी।’

आईपीएल टीम के लिए दिग्गज फुटबॉल क्लब मैनचेस्टर यूनाइटेड के मालिकों ने भी बोली लगाई थी। बीसीसीआई के एक पदाधिकारी ने पीटीआई को बताया कि दुबई में रविवार को पारदर्शी बोली प्रक्रिया का पालन किया गया।

पदाधिकारी ने कहा, ‘कमरे में मौजूद किसी भी बोलीदाता को बोली प्रक्रिया से कोई दिक्कत नहीं थी। इस प्रक्रिया को पारदर्शी तरीके से अंजाम दिया गया। विजयी बोलियां आईपीएल की बढ़ती वैश्विक अपील को दर्शाती हैं।’

Spread the love